Ticker

6/recent/ticker-posts

अतिक्रमण हटाने के नाम पर राजस्व विभाग ने किसान की स्वामित्व वाली भूमि पर चलाया बुलडोजरसिहोरा तहसील के ग्राम गिदुरहा का मामला

अतिक्रमण हटाने के नाम पर राजस्व विभाग ने किसान की स्वामित्व वाली भूमि पर चलाया बुलडोजर

सिहोरा तहसील के ग्राम गिदुरहा का मामला :  मुख्यमंत्री के नाम लिखा पत्र, एसडीएम से लगाई न्याय की गुहार

सिहोरा

राज्य सरकार के निर्देश पर इन दिनों पूरे प्रदेश भर में शासकीय भूमि पर अवैध रूप से कब्जा कर निर्माण कार्य एवं कृषि के रूप में लोगों द्वारा कब्जा जमा रखा गया है। जिसे शासन के निर्देश पर राजस्व अधिकारियों द्वारा खाली कराकर शासन के सुपुर्द किया जा रहा है। इसी मामले में ग्राम गिदुरहा में राजस्व विभाग की लापरवाही सामने आई है, जिसमें गिदुरहा निवासी नितिन काछी एवं विपिन काछी के स्वामित्व वाली जमीन पर लापरवाह राजस्व अधिकारियों द्वारा जबरदस्ती शासन की भूमि बता कर खड़ी फसल में बुलडोजर चलवाने का एक मामला सामने आया है।

किसान ने बताई व्यथा

अतिक्रमण हटाने के इस मामले में किसान नितिन काछी एवं विपिन काछी ने बताया कि पटवारी हल्का नम्बर 84/3 मझगवां खसरा नंबर 653/2 जिसका रकबा 1.20 हेक्टेयर है जिसमें फल और सब्जियाँ लगाई गई थीं जो कि उक्त भूमि राजस्व रिकार्ड में नितिन काछी एवं विपिन काछी पिता लखन लाल काछी के नाम दर्ज है यह कि सरपंच द्वारा लगातार परिवारिक विरोध के चलते राजस्व विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से साठ गाँठ करके उक्त भूमि पर अतिक्रमण की कार्यवाही काराई गई जो कि नियम विरुद्ध है इस कार्यवाही के पूर्व न तो राजस्व विभाग द्वारा किसान को सूचना दी है न ही कोई नापजोख कराई गई।

प्रशासन ने बात तक करना नहीं समझा मुनासिब

लेकिन जब कार्यवाही की गई उस दौरान किसानों द्वारा विभाग के अधिकारियों से बात करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने शासकीय कार्य में बाधा डालने की धमकी देते हुए बुलडोजर चला दिया जिससे उक्त भूमि पर लगी फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई एवं इस कार्य में लगे मजदूरों की रोजीरोटी छीन ली।

मुख्यमंत्री के नाम लिखा पत्र

बर्बाद हुई फसल को देखकर किसान ने प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान से मदद की गुहार लगाई है, साथ ही दोनों पीड़ित किसानों ने मामले की जानकारी पत्र के माध्यम से मुख्यमंत्री कार्यालय को प्रेषित की है वहीं उक्त लापरवाह अधिकारियों एवं गिदुरहा सरपंच विनोद पटेल के खिलाफ कार्यवाही की भी मांग की है।

इनका कहना 

मामले की जानकारी मुझे मिली है, इसको लेकर नायब तहसीलदार से पूरी रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट मिलने और उसे देखने के बाद ही कुछ बता सकूंगा।

आशीष पांडे, एसडीएम सिहोरा