Ticker

6/recent/ticker-posts

प्रशासन की नाक के नीचे चोरी हो रही लाखों की लकड़ी !

प्रशासन की नाक के नीचे चोरी हो रही लाखों की लकड़ी !

नगर पालिका की जनपद की बगिया में आंधी में गिरे थे पेड़, ट्रैक्टर लगाकर ढुल गई लकड़ी, बिना कार्रवाई के छोड़ दिया ट्रैक्टर


सिहोरा

रविवार को चली तेज आंधी के चलते सिहोरा नगर के आसपास के क्षेत्रों में कई पेड़ धराशाई हो गए थे। इनमें आम, पीपल अशोक सहित अन्य पेड़ शामिल थे। कायदे से प्रशासन को इन पेड़ों को उठवाकर नगर पालिका के गोदाम में रखवाला था ताकि ठंड के समय आग लगाने के लिए काम आ सके। लेकिन इसके उलट प्रशासन की नाक की मिलीभगत से लाखों रुपए की लकड़ी ट्रैक्टर में लोड कर चोरी हो गई। वही जब प्रशासन को इसकी जानकारी लोगों ने फोन पर दी तो प्रशासन ने लकड़ी से भरे ट्रैक्टर को पकड़ा तो जरूर लेकिन बिना कार्रवाई के किसके आदेश पर छोड़ दिया। 

जानकारी के मुताबिक मझौली बाईपास में जनपद पंचायत की बगिया में आम के दो से तीन भारी-भरकम वृक्ष आंधी में गिर गए थे। सोमवार सुबह लोग वहां ट्रैक्टर के साथ पहुंची और भारी-भरकम वृक्षों को काटकर लाखों की लकड़ी चोरी कर ले गए। यह सिर्फ जनपद की बगिया की स्थिति नहीं थी अलग अलग जगह पर जहां भी वृक्ष गिरे लोग वहां पड़ी लकड़ी को वाहनों और दूसरे संसाधनों से लूट कर ले गए। ऐसा लग रहा था जैसे वृक्ष न गिरे हो अमृत बरस गया हो। आपको बताते चलें कि जनपद पंचायत की बगिया नगरपालिका के अधीन है लेकिन वहां पर कुछ  स्थानीय लोगों ने अपना कब्जा जमा लिया है रेत और गिट्टी का  वहां पर स्टाक कर उसका बाकायदा व्यापार किया जा रहा है।  नगर पालिका प्रशासन को कोई आय भी नहीं होती।  इसके बावजूद प्रशासनिक अधिकारी मूकदर्शक बने हुए हैं।

लकड़ी से भरा ट्रैक्टर पकड़ा, लेकिन बिना कार्रवाई छोड़ा

जनपद पंचायत की बगिया से कीमती लकड़ी को चोरी होली की जानकारी नगरपालिका के अगले को लगे तो वह मौके पर पहुंचा। वहां पर ट्रैक्टर में बाकायदा लकड़ी को लोड कर ले जाया जा रहा था। अमले ने ट्रैक्टर को तो पकड़ा लेकिन बिना कार्रवाई के ही उसे छोड़ दिया गया। आपको बताते चलें कि ठंड के मौसम में अलार्म लगाने के लिए नगर पालिका को लकड़ी की सबसे ज्यादा आवश्यकता पड़ती है। इस लकड़ी का उपयोग अलाव के लिए सही मायने में होना चाहिए। लेकिन कमीशन और दूसरे चक्कर में अलाव के लिए टेंडर निकाले जाते हैं। अलाव के लिए शहर में लकड़ी तक उपलब्ध नहीं हो पाती।


क्या कहते हैं जिम्मेदार

मौके पर हमले को भेजा गया था जहां ट्रैक्टर से लकड़ी लोड हो रही थी संबंधित ट्रैक्टर से लकड़ी को नगर पालिका के गोदाम में रखवाया गया। ट्रैक्टर के मालिक की गिड़गिड़ा आने पर उसे बिना कार्रवाई के ही छोड़ दिया गया।


जय श्री चौहान, मुख्य नगरपालिका अधिकारी सिहोरा