कलेक्टर और एसपी ने किया कृषि उपज मंडी सिहोरा के स्ट्रांग रूम का निरीक्षण

कलेक्टर और एसपी ने किया कृषि उपज मंडी सिहोरा के स्ट्रांग रूम का निरीक्षण
सिहोरा 

आगामी  दिनों में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव को दृष्टिगत रखते हुये कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक जबलपुर ने संयुक्त रूप से भ्रमण करते हुये बनाये जाने वाले स्ट्रांगरूम एवं मतदान सामाग्री वितरण स्थल का लिया जायजा, मौके पर उपस्थित अधिकारियों को व्यवस्था के सम्बंध मे दिये आवश्यक दिशा निर्दश दिए कलेक्टर जबलपुर डॉ. इलैयाराजा टी. (भा.प्र.से.) एवं पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) ने आगामी दिनों में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव को दृष्टिगत रखते हुये संयुक्त रूप से भ्रमण करते हुये बनाये जाने वाले स्ट्रांगरूम एवं मतदान सामाग्री वितरण स्थल- एम.एल.बी. स्कूल, मझोली के उत्कृष्ट विद्यालय मझोली, सिहोरा एवं खितोैला के कृषि उपज मण्डी खितौला तथा पनागर के उत्कृष्ट विद्यालय पनागर का निरीक्षण किया, मौके पर उपस्थित पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों को सुरक्षा व्यवस्था के सम्बंध मे आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
                     भ्रमण के अवसर पर सम्बंधित एस.डी.एम.एम/नगर पुलिस अधीक्षक/एस.डी.ओ.पी./तहसीलदार/थाना प्रभारी एवं राजस्व, पी.डब्ल्यू.डी. के अधिकारी मौजूद थे ।

पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की  संयुक्त मीटिंग
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव निर्वाचन को लेकर जबलपुर कलेक्टर इलैया राजा टी और जबलपुर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा बुधवार दोपहर सिहोरा कृषि उपज मंडी पहुंचे। एसपी और कलेक्टर ने कृषि उपज मंडी में बने निर्वाचन के कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया इसके बाद उन्होंने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की मीटिंग ली। मीटिंग में एसपी और कलेक्टर ने निर्देशित किया कि संवेदनशील ग्राम पंचायतों का भ्रमण करें।

 असामाजिक तत्वों को बाउंड ओवर करने की कार्रवाई की जाए साथ ही मतदान केंद्रों में सारी व्यवस्थाएं समय पर पूर्ण कर ली जाएं पंचायत चुनाव में निर्वाचन को लेकर किसी भी तरह की गड़बड़ी ना हो। पंचायत निर्वाचन में सरपंच और पंच पद के निर्वाचन के बाद वहीं पर मतगणना की जाएगी। ऐसी स्थिति में निर्वाचन को लेकर सतर्कता बरतें। बैठक में सिहोरा एसडीएम आशीष पांडे तहसीलदार राकेश चौरसिया एसडीओपी सिहोरा भावना मरावी सिहोरा टीआई गिरीश धुर्वे, खितौला टीआई जगोतिया मसराम के अलावा कृषि उपज मंडी सचिव, लोक निर्माण विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारी और कर्मचारी शामिल थे।

Previous Post Next Post