ढाई घण्टे की तेज बरसात से कई जगह हाईवे सड़क जलमग्न व जलभराव तिराहे, चौराहों पर भी भरा पानी

ढाई घण्टे की तेज बरसात से कई जगह हाईवे सड़क  जलमग्न व जलभराव
 तिराहे, चौराहों  पर भी भरा पानी



सिहोरा 

बुधवार को  शाम 4:50 से  रात्रि 7:30 बजे तक हुई तेज बरसात ने राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 हाईवे जबलपुर-सिहोरा सड़क मार्ग पर कई स्थानों पर जलभराव की स्थिति उत्पन्न हो गई है, साथ ही तेज बरसात से हाइवे पर कई जगह सड़क भी जलमग्न हो गई है जिससे रात्रि के समय हाइवे पर दुर्घटनाओं की संभावना बढ़ गई है।
 बरसात से हाईवे सड़क के तिराहे, चौराहे पर  पानी भरने से समस्याएं बढ़ गई हैं। इंजीनियरिंग की तकनीकी गलतियों की वजह से हाईवे के सड़क के किनारे, व तिराहों,चौराहों के बीचो बीच सड़क आदि बैठ गई हैं,जिसकी वजह से बरसाती पानी का जमाव हो रहा है। बुधवार को शाम में आसमान पर छाए काले बादलों से हुई रिमझिम बरसात से जबलपुर-सिहोरा हाईवे फोरलेन सड़क मार्ग पर गांधीग्राम, रामपुर, जुझारी दोनों साइड की सड़क के बीचोंबीच पानी की निकासी के लिए बनाए गए गेफ नहर की शक्ल में तब्दील हो गए। गेफ में पानी भर जाने के कारण पानी ओवरफ्लो होकर अनेक स्थानों पर बरसाती पानी हाइवे सड़क पर भर गया व कई जगह सड़क जलमग्न हो जाने से सड़क के इस ओर से उस ओर पानी बहता रहा।

यहां पर सड़क पर पानी का भराव

राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 की हाईवे तिराहे व गांधीग्राम-धमकी,बम्होरी चौराहे,रामपुर, बरनू,जुझारी आदि  स्थानों पर सड़क पर पानी के भराव के साथ साथ किनारे गड्ढों  में पानी का जमाव हो गया है।सड़क किनारे पानी का जमाव होने से   सड़क के बीचोबीच पर पानी भरा रहा,जिसकी वजह से वाहन चालकों,दुपहिया वाहनों को दुर्घटना की आशंका बलवती हो गई है। प्रकाश मिश्रा,डॉ धर्मेन्द्र पटेल, योगेन्द्र मिश्रा,अरविंद सिंह गौर, जय प्रकाश मेहरा, शिव तिवारी, राजकुमार असाटी,राजेश पटेल का कहना है की इस प्रकार पानी भरने से हाइवे पर एक्सीडेंट का खतरा बढ़ गया है।एनएचएआई की टीम को तेज बरसात के तत्काल बाद ही स्थिति व जलभराव के स्थानों पर ध्यान रखना चाहिए।
Previous Post Next Post