WEE REPORT - हसदेव अरण्य क्षेत्र के जंगलों की कटाई के विरोध में पूरा शहर उमड़ पड़ा...रैली निकाल कर मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए विरोध जताया

शहर सहित राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस आंदोलन को लेकर मिल रहा समर्थन

बिलासपुर। हसदेव अरण्य क्षेत्र को बचाने पूरा शहर उमड़ पड़ा है।ये आंदोलन महज एक व्यक्ति विशेष को लाभ देने के खिलाफ है।लगातार कोंहेर गार्डन में धरना देने के बाद मंगलवार को विभिन्न संगठनों के साथ शहर वासियों ने देवकीनंदन चौक से कलेक्टर कार्यालय तक रैली निकालकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए हसदेव में परसा कोल ब्लॉक का जमकर विरोध किया।  केंद्र सरकार द्वारा आबंटन के बाद हसदेव अरण्य क्षेत्र को बचाने शहर सहित राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस आंदोलन को समर्थन मिला है।गौरतलब है कि कोल ब्लॉक के लिए लगातार जंगल के पेड़ों की कटाई की जा रही है।जिसके चलते आने वाले समय मे पानी का संकट भी बिलासपुर सहित छत्तीसगढ़ के कुछ क्षेत्रों में पैदा हो सकता है।आंदोलनकारियों ने कहा कि जल जंग जमीन की बात करने वाली भाजपा की केंद्र सरकार जमीन तो बचा नही पा रही और ना ही जंगलों को सुरक्षित रख पा रही है।बड़ी संख्या में पहुंचे आंदोलनकारियों ने हसदेव बचाव संघर्ष समिति के बैनर तले विभिन्न सामाजिक संगठन के लोगो को भी इस मुहिम से जोड़ लिया है।अब देखना होगा कि यह आंदोलन और जनता की मेहनत कितना रंग लाती है।
Previous Post Next Post