लगातार बढ़ रहे डॉग बाइट के मामले आवारा शवानो का आतंक दो पहिया वाहन चालक हो रहे दुर्घटनाग्रस्त

लगातार बढ़ रहे डॉग बाइट के मामले आवारा शवानो का आतंक दो पहिया वाहन चालक हो रहे दुर्घटनाग्रस्त

गोसलपुर

नगर के रहवासी इलाकों में आवारा कुत्तों के आतंक से लोग परेशान हैं गांव के मुख्य मार्ग सुनसान होते ही स्ट्रीट डॉग की मौजूदगी इन जगहों पर दिखाई देने लगती है इनके झुंड दो पहिया चार पहिया वाहनों के पीछे भागते हैं जिसकी वजह से घबराहट में वाहन चालक दुर्घटनाग्रस्त हो रहे है यही वजह है की हर माह प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोसलपुर में ढाई सौ से तीन लोग शवानो के हमले से घायल होकर अस्पताल पहुंच रहे है एक अनुमान के मुताबिक नगर में लगभग तीन सौ आवारा स्वान है

इन क्षेत्रों में ज्यादातर

रेलवे स्टेशन गोसलपुर शंकर कालोनी झंडा बाजार रामलीला मैदान कछपुरा यज्ञशाला शिवघाट मंदिर रामसागर तालाब के पास आश्रम मोहल्ला शिवदत्त कालोनी नेशनल हाइवे बसस्टैंड गोरैया मोहल्ला के साथ खानपान की दुकान होटले रेलवे स्टेशनों के आसपास घूमते नजर आते हैं जो रात के समय आक्रमक हो जाते है ग्राम के सौरभ वर्मन मनीष द्विवेदी श्वेतांग पालीवाल घनश्याम उपाध्याय सोहन सोनी नोनेलाल दाहिया रणजीत कोरी अनुपम दीक्षित सुशील सेन सुनील श्रीवासतव अचछेलाल राजभर आजाद जैन ने की मांग की है की डाग कैचर टीम बनाई  जाए

यह है रेबीज के लक्षण

 मरीज का मानसिक संतुलन खोने लगता हैसिर में दर्द होता है
तेज बुखार आता है रैबीज से पीड़ित को पानी से डर लगता है
Previous Post Next Post