नवविवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, फंदे पर लटकी मिली लाश

नवविवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, फंदे पर लटकी मिली लाश

मझौली थाना क्षेत्र के बनखेड़ी गांव की घटना : दो माह पहले हुआ था विवाह, पति और ससुर पर मामला दर्ज

मझौली 

मझौली थाना अंतर्गत बनखेड़ी गांव नवविवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसकी लाश फंदे पर लटकी मिली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को फंदे से उतारा आया और पंचनामा कार्रवाई के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है। जांच में यह बात सामने आई है कि नवविवाहिता को ससुराल पक्ष के लोग दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे जिसके नवविवाहिता ने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने इस मामले में महिला के पति और ससुर के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है। 

एसडीओपी सिहोरा भावना मरावी ने बताया कि ग्राम बनखेड़ी निवासी रंजीत सिंह का विवाह 2 माह पहले ग्राम गूड़ा ढीमरखेड़ा निवासी कैलाश सिंह की बेटी राधा (21) के साथ हुआ था। राधा के पिता ने पुलिस को बताया कि शादी के 15 दिन बाद से ही पति सहित ससुराल के लोग दहेज को लेकर परेशान करने लगे थे। राधा के ऊपर दबाव बनाया जा रहा था कि वह अपने मायके से सोने की अंगूठी, फ्रिज और मोटरसाइकिल मंगाए। राधा ने अपने पिता को बताया कि ससुराल वाले उसे दहेज के लिए परेशान कर रहे हैं। कैलाश ने ससुराल वालों से कहा था कि वह दहेज देने में असमर्थ है बेटी को घर छोड़ जाइए।

फोन पर नही करने दी बात,  कह दिया कर  ली आत्महत्या

सोमवार रात राधा के पिता कैलाश में बेटी राधा को फोन लगाया। जिसको लेकर रंजीत ने राधा से विवाद किया और फोन काट दिया। पिता ने दोबारा फोन किया तो मोबाइल स्विच ऑफ था। मंगलवार सुबह बेटी के ससुराल से किसी ने फोन कर कैलाश को बताया कि उनकी बेटी ने आत्महत्या कर ली है। 

इनका कहना

नवविवाहिता की मौत के मामले में मर्ग कायम कर जांच की जा रही है। प्रारंभिक जांच में नवविवाहिता को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था यह बात सामने आई है इस मामले में पति और ससुर के खिलाफ धारा 304 (बी), 498, दहेज अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया।

भावना मरावी, एसडीओपी सिहोरा
Previous Post Next Post