हरियाली अमावश्या में हुआ वृक्षारोपण

हरियाली अमावश्या में हुआ वृक्षारोपण

सिहोरा

सावन के महीने में प्रकृति चारों तरफ हरियाली की चादर ओढ़ लेती है,यही वजह है कि इस माह में पड़ने वाली अमावस्या को हरियाली अमावस्या के नाम से जाना जाता है। इस दिन पेड़-पौधे लगाने और उनका पूजन करने का भी बहुत महत्व है। हिंदू धर्म में प्राचीन काल से ही पर्यावरण संरक्षण पर विशेष ध्यान दिया जाता रहा है इसलिए तो हमारे ऋषि-मुनियों ने पर्यावरण को संरक्षित करने की दृष्टि से पेड़-पौधों में ईश्वरीय रूप को स्थान देकर उनकी पूजा का विधान बनाया है। इसके अलावा पितृदोष शांति के लिए भी हरियाली अमावस्या तिथि बेहद खास मानी जाती है। 

    इस सुअवसर पर विद्यासागर सेवा आश्रम समिति गौशाला गोसलपुर प्रांगण में समिति के सदस्यों ने व्यापक वृक्षारोपण किया।समिति के सदस्यों ने प्रांगण में पीपल,सागौन,अशोक आदि के वृक्ष लगाए।इस दौरान समिति के उपाध्यक्ष अनिल जैन,संरक्षक अंकुर जैन,संदीप जैन,अमित जैन,यतेंद्र जैन,शशांक दुबे सहित अनेक सदस्य मौजूद रहे।
Previous Post Next Post