नगर परिषद मझौली में अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पद पर भाजपा का कब्जा

नगर परिषद मझौली में अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पद पर भाजपा का कब्जा

अध्यक्ष पद पर शिप्रा राजेंद्र चौरसिया, उपाध्यक्ष पद पर सुनील सोनकर गामा का निर्विरोध निर्वाचन


दोनों ही पदों के लिए कांग्रेसियों के किसी भी प्रत्याशी ने दाखिल नहीं किया नामांकन


मझौली 

नगर परिषद मझौली में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के पद पर भाजपा ने कब्जा जमा लिया है। दोनों ही पदों पर भाजपा ने अपने प्रत्याशियों का निर्वाचन निर्विरोध करा लिया। कांग्रेस पार्टी की तरफ से दोनों ही पदों के लिए किसी भी प्रत्याशी ने नामांकन दाखिल नहीं किया। अध्यक्ष पद पर जहां शिप्रा राजेंद्र चौरसिया निर्विरोध निर्वाचित हुई, वहीं उपाध्यक्ष पद पर सुनील गामा सोनकर निर्वाचित घोषित किए गए।

जनपद कार्यालय में अध्यक्ष पद के लिए निर्वाचन के तय समय सीमा के दौरान भाजपा की तरफ से शिप्रा राजेंद्र चौरसिया ने नामांकन पत्र दाखिल किया तय समय सीमा के दौरान किसी दूसरे प्रत्याशी द्वारा नामांकन पत्र दाखिल नहीं किए जाने पर पीठासीन अधिकारी ने सिंगल नामांकन होने पर शिप्रा राजेंद्र चौरसिया को अध्यक्ष पद के लिए निर्विरोध निर्वाचित होने की घोषणा की। वही उपाध्यक्ष पद के लिए भाजपा द्वारा अधिकृत प्रत्याशी सुनील सोनकर गामा ने नामांकन पत्र दाखिल किया उनके अलावा किसी दूसरे प्रत्याशी ने तय समय सीमा में उपाध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल नहीं किया जिसके बाद पीठासीन अधिकारी ने उपाध्यक्ष पद के लिए सुनील सोनकर गामा को निर्विरोध निर्वाचित होने की घोषणा की। 


भाजपा की कुशल रणनीती, कांग्रेस चारों खाने हुई चित्त

नगर परिषद मझौली में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद पर भाजपा ने अपने दोनों प्रत्याशियों को निर्विरोध निर्वाचित करवा कर अपनी कुशल रणनीति का बेहतर उदाहरण प्रस्तुत किया। वैसे भी भाजपा के पास पहले से ही बहुमत था, लेकिन कांग्रेस के मैदान छोड़ने से भाजपा का पूरी तरह साफ हो गया। 

पाटन विधायक  अजय विश्नोई के साथ मनाया जीत का जश्न

अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद पर कब्जा जमाने के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं ने पाटन विधायक अजय विश्नोई के साथ जमकर जीत का जश्न मनाया मालूम रहे कि करीब 7 साल बाद भाजपा ने नगर परिषद अध्यक्ष के पद पर कब्जा किया है। इसको लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह देखा जा रहा है।
Previous Post Next Post