55 सालों तक पंचायतों से लेकर पार्लियामेंट में कांग्रेस रही, BJP नेताओं ने पूछा- जनजाति समूहों को क्यों रखा वंचित?



बिलासपुर।भाजपा के आदिवासी नेताओं ने 12 आदिवासी जनजातियों को अनुसूचित जनजाति में शामिल किये जाने पर बिलासपुर में प्रेस वार्ता की। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा- की आजादी के 75 सालों में करीब 55 साल तक पंचायतों से लेकर पार्लियामेंट में कांग्रेस का कब्ज़ा रहा फिर भी जनजाति समूहों को कांग्रेस ने उनके संवैधानिक अधिकारों से क्यों वंचित रखा ?
आज भाजपा कार्यालय बिलासपुर में मस्तूरी विधायक व प्रदेश प्रवक्ता डॉ कृष्णमुर्ति बांधी ने 12 आदिवासी जनजातियों को अनुसूचित जनजाति में शामिल किये जाने पर प्रेस वार्ता की। इस प्रेस वार्ता में भाजपा के 

भाजपा नेताओं ने कहा- वर्षों से लंबित मांगों को पूरा कर प्रधानमंत्री ने प्रदेश के आदिवासियों के हित में बड़ा सराहनीय फ़ैसला लिया है। अब कांग्रेस इसे अपनी उपलब्धि बता रहा है जबकि भाजपा ने इस सम्बंध में पहले भी कई बार केंद्र सरकार को चिट्ठियां लिखी थी। कांग्रेस ने कभी आदिवासियो का भला नही किया बल्कि हमेशा समाज को आपस में लड़ाने का काम किया है। भाजपा ने देश के सर्वोच्च राष्ट्रपति पद पर आदिवासी महिला को बिठाया। कांग्रेस 70 साल तक सत्ता रही परन्तु कांग्रेस ने आज तक किसी आदिवासी को राष्ट्रपति नही बनाया।

पूर्व मंत्री एवं भाजपा प्रवक्ता डाक्टर बांधी  ने कहा- छत्तीसगढ़ के लिए कल का दिन काफी ऐतिहासिक रहा है। प्रधानमंत्री द्वारा बड़ा निर्णय लेकर 12 समुदायों को अनुसूचित जाति में शामिल किया गया। भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष लखन सिंह पैकरा ने कहा कि वर्षो से लंबित मांग जिसकी वजह से अनुसूचित जाति के लोग शिक्षा से लेकर स्वास्थ व कई अन्य सुविधाओ से वंचित रह जाते थे। आने वाले समय मे अब सभी जन जाति समूहों को इस निर्णय से सुविधाएं प्रदान होंगी। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए सवाल किया - कांग्रेस ने 55 साल हमारे लोगों को इन संवैधानिक अधिकारों से क्यों वंचित रखा ?
प्रेस वार्ता के दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष रामदेव कुमावत भाजपा अनुसूचित जन जाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष मनोहर राज , राकेश चंद्राकार,सुनीता मानिकपुरी सहित भाजपा के पदाधिकारी उपस्थित रहे
Previous Post Next Post