दोपहर बाद जमकर बरसे बदरा, 8 घंटे में 2 इंच से अधिक बारिश

दोपहर बाद जमकर बरसे बदरा, 8 घंटे में 2 इंच से अधिक बारिश

तहसील में औसत बारिश के करीब पहुंचा आंकड़ा, मौसम लगातार और बारिश का अनुमान

सिहोरा

आसमान में छाए काले बादल बुधवार दोपहर अचानक बरस पड़े। बारिश भी ऐसी वैसी नहीं मूसलाधार। दोपहर एक बजे के बाद शुरू हुआ झमाझम बारिश का क्रम चार बजे तक चलता रहा। मूसलाधार बारिश से लोगों को कुछ राहत तो जरूर मिली लेकिन देर शाम बाद फिर उमस ने लोगों का हाल बेहाल कर दिया।


तहसील कार्यालय के मौसम विभाग के सोमदेव पटवर्धन से हासिल जानकारी के मुताबिक बुधवार सुबह 8 बजे से शाम 4 बजे तक 2 इंच से अधिक (55.2 मिलीमीटर) बारिश दर्ज की गई। बारिश का आंकड़ा तहसील में औसत के करीब पहुंच गया है। इस वर्ष अभी तक (991 मिलीमीटर) 39.64 इंच बारिश हो चुकी है पिछले वर्ष आज के ही दिन तक (655.6 मिलीमीटर) 26. 22 इंच बारिश हुई थी।


42 इंच औसत बारिश का है आंकड़ा

तहसील में औसत बारिश के आंकड़े की बात की जाए तो यह 42 इंच माना गया है। मौसम विभाग की मानें तो आने वाले दिनों में और बारिश का अनुमान लगाया गया है। इसी तरह बारिश का क्रम जारी रहा तो औसत बारिश का आंकड़ा जल्द ही पार हो जाएगा।


मंडी जाने वाली सड़क बरसाती पानी से लबालब, सड़क हो गई गुल 

बारिश इतनी तेज गति से हुई की नगर पालिका की पोल खुल गई। एक घंटे की बारिश में ही नगर पानी-पानी हो गया। नाले-नालियों से पानी निकल कर सड़कों पर आ गया। कहीं पानी दुकानों में घुसा तो कहीं घरों को सराबोर कर दिया। अब स्थानीय लोग नगर पालिका की पानी निकासी और सफाई व्यवस्था पर सवाल उठा रहे हैं।

मंडी रोड की सड़क पर जलभराव

तेज बरसात के कारण खितौला नगर का सबसे व्यस्ततम मण्डी रोड जो की एन एच 30 सड़क से रेल्वे स्टेशन को जाया है, पर जलभराव से सड़क पर पानी समुद्र  की तरह हिलोरे मार रहा है। सड़कें दरिया में बदली नजर आ रही हैं। पैदल चलने वाले राहगीरो कहते हैं कि 'पानी कहां है सड़क कहां है' पता नहीं चल रहा। सफाई व्यवस्था ध्वस्त है सब पानी-पानी है. बुरा हाल है। इस सीमेंट कांक्रीट रोड से जाने आने वाले राहगीरों, मंडी जाने वाले किसानों,स्कूल कालेज जाने वाले छात्रों को पानी भरा होने से परेशानी उठानी पड़ी।
Previous Post Next Post