नहर के नीचे से नर्मदा पाइपलाइन डाली अब सड़क पर गहरी खाई और रैलिंग विहीन स्थान पर खतरा

नहर के नीचे से नर्मदा पाइपलाइन डाली
अब सड़क पर गहरी खाई और रैलिंग विहीन स्थान पर खतरा


पुराना एनएच-7 से गांधीग्राम पहुंच मार्ग का मामला


सिहोरा 

  लगभग डेढ़ माह पूर्व खोदी गई नर्मदा पाइपलाइन यातायात के लिए असुविधा जनक और खतरे का सबब बन गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पुरानी एनएच 7 गांधीग्राम से हाईवे पहुंच मार्ग के लिए बनी सड़क पर गांधीग्राम के पास नर्मदा दाई तट नहर पुलिया स्थित है इस नहर पुलिया से पाइप मशीन द्वारा अंडर ग्राउंड होल कर  करके नर्मदा पाइपलाइन डाली गई है। इस कार्य के लिए जेसीबी मशीन से नहर के दोनों और काफी मात्रा में गहरी व लंबी खुदाई जेसीबी मशीन से भी की गई थी जिससे पाइप लाइन तो डाल दी गई परन्तु इस के बाद यहां पर लगभग डेढ़ माह बीत जाने के बाद भी पुराई नहीं की गई। साथ ही नहर की दोनों ओर की रैलिंग भी निकाल दी गई है। जिससे सड़क मार्ग का लगभग आधा हिस्सा अभी भी उसी स्थिति में पड़ा हुआ है । 


साथ ही नहर की रैलिंग भी नहीं लगाई गई है। जिससे यहां आने जाने वाले वाहनों यात्री वाहनों, दुपहिया वाहनों आदि के अंधेरे के समय उक्त खाई में गिरने का खतरा बना रहता है किंतु इस दिशा में शासन प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है।

रात में रहता है अंधेरा

जिस स्थान पर उक्त पाइपलाइन सड़क के किनारे खोदी गई थी वहां पर विद्युत व्यवस्था ना होने के कारण रात्रि के समय अंधेरा रहता है अनजाने में कोई  वाहन उक्त खाई में गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हो सकता है।
ग्राम वासियों की मांग है कि उक्त सड़क मार्ग पर शीघ्र ही पुराई कराई जावे एवं नहर की रेलिंग को पूरी की जावे क्योंकि सोमवार से नवरात्र प्रारंभ हो जायेंगे और इसी मार्ग से भक्तों का जनसैलाब जल डालने के लिए व पूजा-अर्चना के लिए निकलेगा सुबह वा शाम के समय उक्त खुदी हुई गहरे गढ्ढे व गहरी खाई के कारण लोगों को परेशानी हो सकती है।
Previous Post Next Post