भूपेश की भ्रष्ट सरकार के विदाई का समय नजदीक: डॉ बांधी

किसान मोर्चा जिला कार्यसमिति की बैठक संपन्न


बिलासपुर।भाजपा किसान मोर्चा बिलासपुर की बैठक बिलासपुर भाजपा कार्यालय में सम्पन्न हुई। उक्त बैठक में मस्तूरी विधायक व उप नेता प्रतिपक्ष डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री द्वारिकेश पांडे. जिला प्रभारी गुलाब सिंह चंदेल, जिला अध्यक्ष रामदेव कुमावत, भाजपा महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष जयश्री चौकसे, मोहित जायसवाल , घनश्याम कौशिक , प्रदेश कार्यसमिति सदस्य राकेश चंद्राकर, प्रदेश किसान मोर्चा के पदाधिकारी बीपी सिंह , जिला अध्यक्ष किसान मोर्चा दुर्गा कश्यप , प्रदीप शुक्ला , मनीष कौशिक , रामचरण वस्त्रकार, पवन पाठक, कुशल पांडे, अभिजीत पांडेय, दुर्गा पटेल,नागेंद्र पांडेय, राजू सिंह राजपूत प्रमुख रूप से शामिल हुए । उक्त बैठक की जानकारी देते हुए भाजपा किसान मोर्चा के जिला प्रभारी गुलाब सिंह चंदेल ने बताया कि बैठक में किसान मोर्चा के गतिविधियों की समीक्षा कर आगामी रणनीति पर कार्ययोजना बनाई गई। आगामी समय में मंडल व जिले की बैठक, ग्राम पंचायत स्तर पर किसान सांसद प्रतिनिधी की नियुक्ति, सभी पंचायतों में संयोजक एव सहसंयोजको की नियुक्ति सहित 9 सितंबर को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के आगमन को लेकर रायपुर स्वागत की तैयारियों का जायजा लिया गया। इस दौरान मस्तूरी विधायक डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी ने ने मोर्चा पदाधिकारियों संबोधित करते हुए कहा कि भूपेश सरकार में विकास कार्य ठप्प हो गए हैं, लाखों गरीब किसान प्रधान मंत्री आवास के लिए भटक रहे हैं, भूपेश सरकार द्वारा 14 लाख से अधिक आवास लौटाए जाने के कारण छत्तीसगढ़ 18 हजार करोड़ से वंचित हो गया। किसानों को स्थाई बिजली कनेक्शन नही मिल पा रहें हैं, किसान मोर्चा के कार्यकर्ता कमर कस कर तैयार हो जाएं इस भ्रष्ठ सरकार की विदाई का समय नजदीक आते जा रहा है। इस दौरान प्रदेश किसान मोर्चे के महामंत्री द्वारकेश पांडे ने भूपेश सरकार को माफिया सरकार बताया, उन्होंने कहा कि नशे का कारोबार बढ़ गया है और इससे सर्वाधिक नुकसान किसान परिवार को है, स्कूल कालेज की नई स्थापना नही हो रही, सड़कें नही बन रही, खनन माफिया के चंगुल में प्रदेश है और इससे प्रदेश की 80 प्रतिशत आबादी जो कृषि कार्य मे लगी है वही सबसे ज्यादा पीड़ित हो रहे हैं, उन्होंने इस माफिया सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए मोर्चा कार्यकर्ताओं को सड़क की लड़ाई लड़ने का आव्हान किया।


बैठक में जिला प्रभारी गुलाब सिंह चंदेल ने मोर्चा के सभी कार्यकर्ताओं का परिचय प्राप्त कर संगठन को और मजबूत करते हुए इस जनविरोधी सरकार को उखाड़ फेंकने का आव्हान किया। बैठक में राज्य की जन विरोधी भूपेश सरकार की नीतियों की जम कर आलोचना की गई, प्रदेश में किसान आत्महत्या पर भूपेश सरकार की दोहरी नीति जिसमे राज्य के बाहर किसानों को करोड़ो की सहायता और राज्य के किसान परिवार को चंद रुपये देने की निंदा की गई है। किसानों को मिलने वाले कृषि आदान बन्द कर दिए गए वहीं धान खरीदी में किसानों को आने वाली परेशानियों, रकबा कटौती, खाद की कालाबाजारी जैसे मुद्दों को उठाया गया एवं भ्रष्ठ भूपेश सरकार को उखाड़ फेंकने का आव्हान किया गया,
Previous Post Next Post