कार नदी में नहाने गई दो बालिकाएं तेज बहाव में बहीं, एक की किशोर ने बचाई जान, दूसरे की तलाश जारी

कार नदी में नहाने गई दो बालिकाएं तेज बहाव में बहीं, एक की किशोर ने बचाई जान, दूसरे की तलाश जारी


मझौली थाना अंतर्गत पोला ग्राम के तेंदूघाट की घटना : स्थानीय गोताखोरों, नाव की मदद से दिनभर चली खोजबीन, नहीं लगा सुराग


मझौली

मझौली थाना अंतर्गत ग्राम पोला स्थित कार नदी में नहाने गई दो बालिकाएं तेज बहाव में बह गईं। नदी के किनारे खड़े किशोरों ने नदी में छलांग लगाकर एक किशोरी को तो बचा लिया लेकिन बहाव अधिक होने के कारण दूसरी किशोरी बह गई। घटना की जानकारी लगते ही भारी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ मौके पर जमा हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय गोताखोरों और नाव की मदद से बालिका की खोजबीन के लिए पूरे दिन अभियान चलाया, लेकिन बालिका का कहीं भी पता नहीं चला। 


मझौली थाना प्रभारी एसआई अभिलाष मिश्रा ने बताया कि पोला ग्राम निवासी मदन ठाकुर की कोनी खुर्द में उसकी ससुराल है। साला भगवान दास ठाकुर अपनी दो बेटियों लक्ष्मी ठाकुर (13), रघ्घो ठाकुर (11), काजल (3) को लेकर मंगलवार को पोला आया था। शुक्रवार सुबह में बीड़ी बनाने गया था, घर पर उसकी तीनों बेटियां और मेरा बेटा अरुण उर्फ रॉकी था।

भाई के साथ नहाने गई, तेज बहाव के कारण बह गई

सुबह 9:30 बजे के लगभग लक्ष्मी,रघ्घो अपने भाई अरुण के साथ कार नदी तेन्दुघाट नहाने के लिए गई थी। नहाने के दौरान नदी में पानी का बहाव अधिक होने से लक्ष्मी और रघ्घो बहने लगीं। बालिकाओं के बचाओ बचाओ की आवाज सुनकर घाट के पास खड़े अजय चक्रवर्ती और सनी चक्रवर्ती ने नदी में छलांग लगा दी। दोनों ने लक्ष्मी ठाकुर पानी के तेज बहाव से बाहर निकाल लिया, लेकिन रघ्घो बह गई है। 


गोताखोरों और टीम ने पूरे दिन की खोजबीन, नहीं लगा बालिका का सुराग

घटना की जानकारी लगते ही भारी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ मौके पर जमा हो गई। मझौली पुलिस ने स्थानीय गोताखोरों और नाव की मदद से लापता बालिका की नदी के 4 से 5 किलोमीटर के क्षेत्र में खोजबीन की, लेकिन बालिका का कोई भी सुराग नहीं लगा। शनिवार को नाव से फिर बालिका की खोजबीन का अभियान चलाया जाएगा।
Previous Post Next Post