नम आंखों से दी विदाई, सड़क दुर्घटना में मृत शिक्षक की अंत्येष्टि में रो पड़े लोग

नम आंखों से दी विदाई, सड़क दुर्घटना में मृत शिक्षक की अंत्येष्टि में रो पड़े लोग



सिहोरा 

 साक्षरता  रैली के आयोजन के दौरान शासकीय प्राथमिक शाला रामपुर के सहायक शिक्षक जय प्रकाश मेहरा को कार की टक्कर से हुई मौत के बाद शुक्रवार को गांधीग्राम बाजार स्थल स्थित उनके निवास स्थान से अंतिम यात्रा निकली तो ग्राम वासियों ,शासकीय प्राथमिक शाला रामपुर के बच्चे अभिभावक भी उनके  घर पहुंच गए शव यात्रा में पहुंचे हर सदस्य की आंखे अश्रुपूरित थी। मुक्तिधाम गांधीग्राम में सहायक शिक्षक जय प्रकाश मेहरा को उनके पुत्र पारस मेहरा ने मुखाग्नि दी।

 घर परिवार सहित गांव के लोग रो पड़े।

साक्षरता रैली में मुख्य अतिथि रहे उद्योगपति वा कांग्रेस नेता विनोद श्रीवास्तव ने  शोक सभा के दौरान कहा कि शिक्षक जयप्रकाश प्रकाश मेहरा ने शासन के दिशा निर्देश का पालन करते हुए साक्षरता रैली व्यवस्थित तरीके से निकाली, किन्तु अनियंत्रित व तेज गति से आ रही कार के एक्सीडेंट से बच्चों को बचाने के लिए उन्होंने बच्चों को किनारे किया  इस दौरान वे खुद मौत मुंह में समा गए। उन्होने कहा कि ग्राम रामपुर वा गांधीग्राम के लोगों की मांग है कि शिक्षक जयप्रकाश मेहरा ने शासन के निर्देशों का पालन करते हुए साक्षरता रैली के दौरान  कार एक्सीडेंट से बच्चों को बचाते हुए खुद की जान गवानी पड़ी। अतः शिक्षक को शहीद का दर्जा दिया जाए साथ ही शिक्षक के नाम पर स्कूल का नाम रखा जाए।

शिक्षा अमला भी पहुंचा... 

बीईओ अशोक उपाध्याय, गांधीग्राम प्राचार्य डॉ राकेश शर्मा, बीआरसीसी पी एल रैदास, बीएसी बृजेश श्रीवास्तव, जे के उपाध्याय, महेन्द्र प्रकाश मिश्रा, योगेन्द्र मिश्रा, अरविंद सिंह गौर, शिवदत्त मिश्रा, डॉ राम सिंह ठाकुर, रामनिरंजन दुबे, कमलेश असाटी सहित ग्रामवासी वा शिक्षा विभाग के लोग उपस्थित रहे।
Previous Post Next Post