सिहोरा में बछड़े में दिखे लंपी वायरस के लक्षण ! पशु चिकित्सा विभाग अलर्ट

सिहोरा में बछड़े में दिखे लंपी वायरस के लक्षण ! पशु चिकित्सा विभाग अलर्ट


नगरीय क्षेत्र में कराई गई मुनादी, बाहर न छोड़ें अपने जानवर, दूसरे जिलों से मवेशियों के परिवहन पर प्रतिबंध

सिहोरा

मवेशियों में लंपी स्किन डिजीज (एसएसडी) को लेकर प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है। इस बीच सिहोरा में एक मवेशी में लंपी वायरस के लक्षण देखने को मिले, लेकिन इसके पहले ही मवेशी को नगर पालिका क्षेत्र से बाहर भेज दिया गया। जिसके कारण उसकी सेंपलिंग नहीं हो सकी। हालांकि लंपी वायरस को लेकर पशु चिकित्सा विभाग अलर्ट मोड पर है। नगर पालिका क्षेत्र सिहोरा में मुनादी के माध्यम से लोगों से अपील की गई है कि वे अपने मवेशियों को बाहर छोड़ें। मवेशियों में किसी भी तरह की दिक्कत आने पर तुरंत इसकी जानकारी पशु चिकित्सा विभाग को दें। 

गुरुवार शाम को सिहोरा के वार्ड क्रमांक 8 गाय के बछड़े में चकते (गठान) के निशान देखे गए, जो कुछ-कुछ लंपी वायरस से मिलता-जुलता सा था। स्थानीय लोगों ने दहशत के चलते संबंधित गाय के बछड़े को नगर पालिका क्षेत्र से बाहर जंगल में छोड़ दिया। 

ग्रामीण क्षेत्रों में भी मुनादी, मवेशियों के परिवहन पर लगा प्रतिबंध

लंपी वायरस को लेकर प्रशासन ने ग्रामीण क्षेत्रों में भी मुनादी की कार्रवाई शुरू कर दी है। क्योंकि अधिकतर मवेशी ग्रामीण क्षेत्रों में ही हैं। वही कलेक्टर के निर्देश पर दूसरे जिलों से मवेशी के परिवहन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। 


ये हैं लंपी वायरस के लक्षण

पशु चिकित्सा विभाग के मुताबिक लंपी वायरस की चपेट में आने पर मवेशी सुस्त हो जाता है। आंख और नाक से लगातार पानी आने लगता है साथ ही मवेशी खाना खाना छोड़ देता है। हालांकि लंपी वायरस में मवेशियों की मौत की संभावना बहुत कम रहती है लेकिन मवेशी का समय पर इलाज और वैक्सीन लगना जरूरी है। लंपी वायरस में गोट पोक्स वैक्सीन लगाई जाती है। 

सैंपलिंग जारी, नहीं मिला वायरस के लक्षण वाले मवेशी

पशु चिकित्सा विभाग के मुताबिक जहां से भी उन्हें जानकारी मिलती है कि संबंधित मवेशी बीमार है। डॉक्टर और उनकी टीम मौके पर पहुंचकर मवेशी का सैंपल ले रही है, लेकिन अभी तक लंपी वायरस के लक्षण वाला कोई भी मवेशी सामने नहीं आया है। पशु चिकित्सा विभाग ने पशुपालकों से अनुरोध किया है कि मवेशियों में किसी भी तरह की दिक्कत सामने आने पर तुरंत इसकी सूचना पशु चिकित्सा विभाग को दें।

इनका कहना

सिहोरा नगर और ब्लाक के सभी ग्रामों में मवेशियों में किसी भी तरह की दिक्कत आने पर उनकी सैंपलिंग की जा रही है। सैंपल की जांच के दौरान कोई भी मवेशी लंपी वायरस से ग्रसित सामने नहीं आया है। नगर और ग्रामीण क्षेत्र में पशु चिकित्सा विभाग के डॉक्टर और अमला पूरी तरह अलर्ट मोड में है।

डॉ नीता मनोचा, खंड पशु चिकित्सा अधिकारी सिहोरा
Previous Post Next Post