सिविल अस्पताल सिहोरा में आठ एनएनसी एवं पीएनसी महिलाओं को चढ़ाया गया रक्त

सिविल अस्पताल सिहोरा में आठ एनएनसी एवं पीएनसी महिलाओं को चढ़ाया गया रक्त


8 ग्राम से कम था शरीर में हीमोग्लोबिन, गर्भस्थ शिशु को हो सकती थी परेशानी


सिहोरा 

सिविल हॉस्पिटल सिहोरा में शुक्रवार को आठ एएनसी एवं पीएनसी महिलाओं का ब्लड ट्रांसफ्यूजन (रक्त चढ़ाया) किया गया। संबंधित महिलाओं के शरीर में 8 ग्राम से कम हीमोग्लोबिन था। ऐसी स्थिति में महिलाओं और गर्भस्थ शिशु को परेशानी का सामना करना पड़ सकता था। 

कलेक्टर जबलपुर एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी निर्देश पर एसडीएम आशीष पांडे, ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर डॉ दीपक गायकवाड प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ आर्यन तिवारी के मार्गदर्शन में विशाल ब्लड ट्रांसफ्यूजन किया गया। डॉ आर्यन तिवारी ने बताया कि सिविल हॉस्पिटल सिहोरा में एक साथ पहली बार आठ एएनसी एवं पीएनसी महिलाओं का ब्लड ट्रांसफ्यूजन किया गया है। ब्लड ट्रांसफ्यूजन का काम वैसे तो हॉस्पिटल में लगातार चल रहा है। 


35 यूनिट ब्लड अभी भी स्टोर, जरूरतमंदों को कराया जाएगा उपलब्ध

सिविल हॉस्पिटल सिहोरा में 35 यूनिट ब्लड अभी भी स्टोर में उपलब्ध है। ऐसे जरूरतमंद लोग जिनको ब्लड की तुरंत आवश्यकता है वह हॉस्पिटल में आकर ब्लड चढ़वा सकते हैं। ब्लड ट्रांसफ्यूजन शिविर को सफल बनाने में डॉक्टर आईएस ठाकुर, डॉक्टर नील बनर्जी, डॉक्टर सुनील लटियार, नर्सिंग ऑफिसर नीता सिंग, भावना कुडापे, मोनिका कुशवाहा, संतोषी विश्वकर्मा, अभिलाषा श्रीवास्तव, राजेंद्र गुप्ता, प्रीति मिश्रा, मोहित पटेल, नरेश शुक्ला, विपिन दीप मरावी, बीपीएम श्वेता कोष्ट, वीरेंद्र कुमार मेहरा एवं आशा कार्यकर्ता, एएनएम सीएचओ का सहयोग रहा।
Previous Post Next Post