तकनीकी मापदंड के अनुरूप नहीं निकला नाली निर्माण का काम, सीईओ ने सचिव को जारी किया कारण बताओ नोटिस

तकनीकी मापदंड के अनुरूप नहीं निकला नाली निर्माण का काम, सीईओ ने सचिव को जारी किया कारण बताओ नोटिस


जनपद पंचायत सिहोरा की ग्राम पंचायत कुशयारी का मामला : तीन दिन में जवाब प्रस्तुत नहीं करने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की तैयारी



सिहोरा 

जनपद पंचायत सिहोरा की ग्राम पंचायत कुशयारी के सचिव ग्राम तिघरा में किया गया नाली निर्माण का कार्य तकनीकी मापदंडों पर सही नहीं पाया गया। मूल्यांकन के बाद उपयंत्री इस निर्माण कार्य को शून्य घोषित कर दिया। भ्रष्टाचार के इस मामले को लेकर जनपद पंचायत सिहोरा के सीईओ ने सचिव आशीष साहू को कारण बताओ नोटिस जारी किया है तीन दिवस के अंदर नोटिस का स्पष्टीकरण नहीं दिए जाने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई प्रस्तावित और ₹492000 की राशि वसूली की बात कही गई है। "Weenews" ने शनिवार को 'सचिव ने कागजों में कर दिया बाउंड्री वाल सीसी रोड और नाली का निर्माण 12.50 लाख कर लिए आहरित' शीर्षक से खबर प्रमुखता से प्रकाशित की थी। खबर के प्रकाशित होने के बाद संबंधित अधिकारियों में हड़कंप मच गया आनन-फानन में सचिव को नोटिस जारी किया गया। 


ये है पूरा मामला 

ग्राम पंचायत कुशयारी की नवनिर्वाचित सरपंच रजनी राजेश दहिया उपसरपंच गोविंद कोल,  पंच  रवि पटेल, अनिकेत पटेल, वीरेंद्र पटेल, गुलाब कोल और ग्रामीणों कलेक्टर को दी शिकायत में बताया कि ग्राम पंचायत कुशयारी में श्मशान घाट की बाउंड्री वाल, ग्राम तिघरा में सीसी रोड और नाली का निर्माण स्वीकृत हुआ था। सचिव आशीष साहू ने कागजों में इन तीनों निर्माण कार्यों को पूरा दिखा दिया और  1255500 रुपए की राशि खाते से आहरित कर ली, जबकि वास्तविकता में निर्माण कार्य हुआ ही नहीं है।

नाली निर्माण और बाउंड्री वाल के कार्य को लेकर जल्द जारी होगा नोटिस..

ये भी पढ़े......




जनपद पंचायत के सीईओ द्वारा जारी नोटिस में निर्माण कार्य में सचिव आशीष साहू को नाली निर्माण में की गई गड़बड़ी और तकनीकी मापदंडों के अनुसार कार्य नहीं किए जाने को लेकर कारण बताओ नोटिस जारी हुआ है। सूत्रों की मानें तो इसके अलावा शमशान घाट की बाउंड्री वाल के निर्माण में हुई गड़बड़ी और सीसी निर्माण में लंबे भ्रष्टाचार का मामला सामने आ सकता है इसको लेकर भी जल्द नोटिस जारी होने की संभावना है। 

क्या कहते हैं जिम्मेदार

ग्राम पंचायत कुशयारी के ग्राम तिघरा में 15वें वित्त से 4 लाख 92 हजार सीसी रोड स्वीकृत हुई थी। निर्माण कार्य तकनीकी मापदंडों के अनुसार नहीं पाए जाने पर मूल्यांकन के बाद कार्य को शून्य घोषित करते हुए सचिव को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। नोटिस का जवाब संतुष्ट पूर्ण नहीं होने पर संबंधित सचिव से राशि वसूली के साथ अनुशासनात्मक कार्रवाई प्रस्तावित की जाएगी। 


जितेंद्र गुप्ता, प्रभारी सीईओ जनपद पंचायत सिहोरा
Previous Post Next Post