महिलाओं ने गोवर्धन महाराज का किया पूजन, परिवार की सुख-समृद्धि की मांगी कामना घरों में धूमधाम से मनाया गया गोवर्धन पूजन

महिलाओं ने गोवर्धन महाराज का किया पूजन, परिवार की सुख-समृद्धि की मांगी कामना


घरों में धूमधाम से मनाया गया गोवर्धन पूजन

सिहोरा 

  दीपावली पर्व के तीसरे दिन बुधवार को गोवर्धन पूजन महोत्सव हर्षोल्लास के साथ किया गया। सवेरे ही अपने घरों में गाय के गोबर से भगवान गोवर्धन महाराज की आकृति बनाई गई। पारंपरिक परिधानों में सजधज कर छोटे-छोटे समूह में पूरे विधि-विधान के साथ श्रद्धालु महिलाओं ने गोवर्धन महाराज की सामूहिक रूप से पूजा-अर्चना कर परिवार में खुशहाली की कामनाएं की। इस दौरान महिलाओं ने सामूहिक रूप से गोवर्धन की परिक्रमा करके भगवान गोवर्धन गीत गाए और परिवार की सुख-समृद्धि व शांति के लिए आशीर्वाद मांगा।


  गोवर्धन पूजा का महत्व 

भगवान कृष्ण के द्वारा इंद्रदेव का अहंकार दूर करने के स्मरण में गोवर्धन का त्योहार मनाया जाता है। पौराणिक कथा के अनुसार, भगवान कृष्ण की ओर से ही सर्वप्रथम गोवर्धन पूजा आरंभ करवाई गई थी और गोवर्धन पर्वत को अपनी उंगली पर उठाकर इंद्रदेव के क्रोध से ब्रज के समस्त नर-नारियों और पशु-पक्षियों की रक्षा की थी। यहीं कारण है कि गोवर्धन पूजा में गिरिराज के साथ भगवान कृष्ण के पूजन का भी विधान है। गोवर्धन की पूजा करके लोग प्रकृति के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करते हैं।
Previous Post Next Post