घर व दुकानों की सफाई कर सार्वजनिक स्थानों पर फेंक रहे कचरा

घर व दुकानों की सफाई कर सार्वजनिक स्थानों पर फेंक रहे कचरा




जनप्रतिनिधियों की समझाइश बेअसर:  स्वच्छ भारत अभियान में अवरोध

सिहोरा 


जनपद पंचायत सिहोरा के अंतर्गत तहसील की सबसे बड़ी कहीं जाने वाली ग्राम पंचायत गोसलपुर में
जहां एक ओर देश व प्रदेश की सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत अभियान मे अग्रणी स्थान पाने के लिए ग्राम पंचायत गोसलपुर के
सरपंच सचिव व सभी जनप्रतिनिधि मिलकर घरों से निकलने वाले कचरा को डस्टबिन में रखने हेतु प्रेरित कर रहे हैं, वही ग्राम वासियों को सुविधा प्रदान करते हुए ग्राम पंचायत गोसलपुर द्वारा काफी लंबे समय से प्रतिदिन कचरे वाली गाड़ी का भी संचालन किया जा रहा है। इसके बावजूद भी लोगों में जागरूकता की कमी दिख रही है


लोग इस समय उमंग उल्लास व दीपों के पर्व दीपावली के आने के कुछ दिन शेष हैं। जिस कारण इस समय नगर में तेजी से लोग अपने घर और दुकानों की साफ सफाई कर रहे है, परंतु लोगों द्वारा अपने घर व दुकानों की सफाई तो की जा रही है वहां से निकलने वाले कचरे को व्यवस्थित न रखकर सार्वजनिक स्थानों गलियों व नालियों में फेंका जा रहा है। जिससे बस्ती की अनेक जगहों पर कचरे के ढेर देखने को मिल रहे हैं, जो निश्चित रूप से नगर की सफाई व्यवस्था के लिए नासूर साबित हो रहे है। सबसे ज्यादा बस स्टैंड
झंडा बाजार गोसलपुर में कचरे के ढेर देखने को मिलते है।


ज्ञात हो की यहां पर बड़े-बड़े प्रतिष्ठान संचालित हो रहे हैं इन प्रतिष्ठानों से निकलने वाला कचरा व्यापारियों के द्वारा व्यवस्थित निर्धारित जगहों पर न फेंककर सार्वजनिक स्थानों में फेंका जा रहा है। जिससे स्वच्छता अभियान प्रभावित हो रहा है वही नगर की तस्वीर बदसूरत नजर आ रही है। लोगों का कहना है की जब समझदार लोग ही इस तरह से जानबूझकर गलती करेंगे तो ऐसे में आदिवासी हरिजन पिछड़े मोहल्लों में क्या संदेश जाएगा। ग्राम में अनेकों बार पंचायत प्रतिनिधियों स्वयंसेवी संस्थाओं व अन्य सरकारी कर्मचारियों द्वारा स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक करने हेतु अनेक रैली आयोजन संगोष्ठी आयोजित किए जा चुके हैं।। परंतु लोग नगर को स्वच्छ बनाने में अपनी ओर से बिल्कुल भी सहभागिता नहीं निभा रहे हैं। जिससे ग्राम पंचायत के द्वारा चलाए जा रहे सफाई अभियान की रफ्तार धीमी पड़ जाती है।
Previous Post Next Post