स्वार्थ सिद्धि के लिए प्रशासन के सामने वन माफिया ने कर दिया पेड़ों का कत्लेआम

स्वार्थ सिद्धि के लिए प्रशासन के सामने वन माफिया ने कर दिया पेड़ों का कत्लेआम


सिहोरा

गांधीग्राम (बुढागर) गांधीग्राम के सार्वजनिक शौचालय से लगा कूड़ा कंजई तिराहे का बरसों पुराना इमली का पेड़, लकड़ी माफियाओं ने प्रशासन की नाक के नीचे काट लिया और किसी को खबर भी नहीं हुई। लोगों में यह बड़े अचरज का विषय बना हुआ है कि कैसे इतना पुराना जबलपुर मिर्जापुर हाईवे से लगा उक्त पेड़ प्रशासन की आंखों के सामने कट गया और अब तक किसी ने कोई कार्यवाही नहीं की। जबकि उक्त पुराने हाईवे से दिनभर शासन प्रशासन के अधिकारी कर्मचारियों का आना जाना लगा रहता है।

 उक्त चौराहे पर मंडी बोर्ड सिहोरा एम पी फॉरेस्ट के अलावा पुलिस के कर्मी भी गश्त करते हैं मगर किसी ने भी इस बात पर एतराज नहीं जताया कि उक्त पेड़ किसके आदेश से और क्यों कटवाया जा रहा है। बरसों पुराना इमली का पेड़ काटकर जहां माफिया ने हजारों रुपए कमा लिए वही पर्यावरण को हुई भारी क्षति से किसी का कोई लेना देना नहीं है। वहीं स्थानीय आने जाने बालों का कहना है कि बरसों पुराने उक्त इमली के पेड़ के नीचे मई-जून की तपती गर्मी में राहगीरों को छाया और फल देने वाले पेड़ को कटवा कर इसकी लकड़ियां बेचकर बंदरबांट करने में स्थानीय प्रशासन का भी हाथ है।
Previous Post Next Post