2014 किसानों का अटक सकता है भुगतान

2014 किसानों का अटक सकता है भुगतान




खाते से आधार लिंक कराने की अपील, किसानों की सुविधा हेतु बना कंट्रोल रूम 

सिहोरा 

जबलपुर जिले के सिहोरा एवं मझौली तहसील के 23316 किसानों ने आगामी दिनों में खरीफ सीजन की धान उपार्जन प्रक्रिया के तहत अपनी समर्थन मूल्य पर उपज बेचने के लिए पंजीयन कराया है। जिनमें शासकीय विभागों के सत्यापन के बाद यह बात सामने आई है की 2014 किसानों के खाते से आधार सीडेड नहीं हैं जिस कारण ऐसे किसानों को अपनी धान उपज बेचने के बदले मिलने वाले भुगतान में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

 सिहोरा एसडीएम आशीष पांडेय ने बताया की शासन स्तर से ट्रायल के तौर पर पंजीकृत किसानों के खाते में एक-एक रुपए भेजा गया है। जांच के बाद यह बात सामने आई है की सिहोरा-मझौली तहसील के 2014 किसानों के खाते मे आधार लिंक नहीं हैं। आधार लिंक कराना किसानों के लिए अनिवार्य है। इस हेतु कर्मचारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है, वहीं बैंकों को भी निर्देश दिए गए है एवं सिहोरा में कंट्रोल रूम भी बनाया गया है।
Previous Post Next Post