आबकारी- ठेकेदार की मिलीभगत से सिहोरा नगर के मोहल्लों एवं गांव में पैकारी से बिक रही अवैध कच्ची देसी शराब

आबकारी- ठेकेदार की मिलीभगत से सिहोरा नगर के मोहल्लों एवं गांव में पैकारी से बिक रही अवैध कच्ची देसी शराब


बर्बाद हो रहे परिवार, रोज हो रहे झगड़े, बढ़ी सड़क दुर्घटनाएं

जागरूक युवकों ने सिहोरा एसडीएम को सौंपा ज्ञापन, शराब का अवैध कारोबार करने वालों पर सख्त कार्रवाई


सिहोरा

आबकारी विभाग-ठेकेदार की मिलीभगत से अवैध तरीके से सिहोरा क्षेत्र के शहरी मोहल्लों एवं आसपास के गांव में कच्ची एवं देशी शराब का विक्रय धड़ल्ले से हो रहा है। शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के लोग पैकरी चलाकर मोहल्ले मोहल्ले शराब बेची जा रही । शराब के अवैध कारोबार से लोग त्रस्त हो चुके हैं। आए दिन मोहल्ले एवं ग्रामों में अवैध शराब के कारण लगातार घटनाएं घटित हो रही हैं जिससे परिवार को आर्थिक एवं सामाजिक परेशानियों से जूझना पड़ रहा है। अवैध शराब का विक्रय करने वाले कारोबारियों पर आबकारी विभाग कोई भी कार्यवाही नहीं करता। ठेकेदारों की मिलीभगत से सारा कारोबार चल रहा है । यह आरोप सिहोरा नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों से आए जागरूक नागरिकों ने बुधवार को अनुविभागीय अधिकारी सिहोरा आशीष पांडे को ज्ञापन सौंपते हुए लगाए । जागरूक नागरिकों ज्ञापन के माध्यम से बताया कि शराब के अवैध कारोबार पर तुरंत रोक लगाई जाए और इस अवैध कारोबार में लिप्त लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई हो।

भाजयुमो नगर मंडल सिहोरा उपाध्यक्ष हरिओम यादव उर्फ लालू, अनिल चौबे पप्पू विश्वकर्मा पंकज सेन अमित सोनी अमित पटेल पप्पू ठाकुर ने बताया कि सिहोरा नगर के वार्ड क्रमांक 14 खितौला, वार्ड क्रमांक 15 खितौला, वार्ड क्रमांक 17  खितौला, वार्ड क्रमांक 18 खितौला, वार्ड क्रमांक 1 मनसकरा सिहोरा में ठेकेदार पैकारी के माध्यम से गलियों और मोहल्लों में जगह-जगह अवैध शराब का कारोबार कर रहे हैं। वही आबकारी विभाग सिर्फ मूकदर्शक बना रहता है। कहीं न कहीं आबकारी विभाग की शराब के अवैध कारोबार करने वालों को पूरी तरह से सहमति नजर आ रही है। 

ग्रामीण क्षेत्रों में हालात और भी खराब

 ग्रामीण क्षेत्र में अवैध कच्ची एवं देसी शराब का विक्रय खुलेआम हो रहा है यहां हालात तो शहर से भी बदतर हैं।  मरहा (भाटादोन), दरौली खुर्द एवं दरौली कला, केवलारी, मुरता, मकुरा, बुधुआ, मढा (परसवारा), परसवारा, सरदार हरगढ़ घुघरा में अवैध शराब का कारोबार ठेकेदार की सहमति से हो रहा है। इन अवैध शराब का कारोबार करने वालों पर सख्त कार्रवाई करते हुए अवैध शराब के कारोबार को तत्काल बंद कराया जाए।
Previous Post Next Post