पत्नी की डिलेवरी के बाद घर लौट रहे पति की सड़क हादसे में मौत

पत्नी की डिलेवरी के बाद घर लौट रहे पति की सड़क हादसे में मौत



सिहोरा के ​बाबाताल के पास देर रात की घटना 

सिहोरा 

 पत्नी को बुधवार रात प्रसव पीड़ा हुई, तो पति उसे लेकर अस्पताल पहुंचा। पत्नी की डिलेवरी के बाद वह घर लौट रहा था, इस दौरान अज्ञात वाहन ने उसे टक्कर मार दी। घटना में उक्त व्य​क्ति को गंभीर चोटें आई। उसे मेडिकल अस्पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। गुरुवार को पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंपा। मामले में अज्ञात वाहन चालक के ​खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया गया है।
 
सिहोरा पुलिस ने बताया कि खितौला वार्ड क्रमांक 13 लखराम मोहल्ला निवासी संतोष कोल (34) की पत्नी रमाबाई कोल (29) को बुधवार रात प्रसव पीड़ा हई। जिसके बाद संतोष और उसके परिजन रमाबाई को सिहोरा शासकी अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां रात लगभग 11 बजे रेखा की डिलेवरी हुई। जच्चा-बच्चा को सुर​क्षित देखने के बाद संतोष पैदल घर के लिए निकला। रात लगभग 12 बजे वह सिहोरा के श्री शिव मंदिर बाबा ताल के पास ही पहुंचा था, तभी जबलपुर तरफ से आ रहे अज्ञात वाहन ने उसे जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही संतोष सड़क पर गिरा। उसके सिर और हाथ पैर में गंभीर चोटें आई। जानकारी लगते ही परिजन वहां पहुंचे और उसे तत्काल सिहोरा अस्पताल ले जाया गया। हालत नाजुक होने पर संतोष को मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया गया, लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।
 
सीने से चिपकी थी बेटी, पति ने मौत ने तोड़ा

संतोष के शव का गुरुवार को पोस्टमार्टम हुआ, जिसके बाद पुलिस ने शव को परिजनों को सौंप दिया। इधर सिहोरा अस्पताल से रमाबाई को घर ले जाया गया। जैसे ही उसे पति की मौत की जानकारी लगी, तो वह बदहवास हो गई। वह भरोसा नहीं कर पा रही थी, कि जिस पति को उसने कुछ घंटे पहले सही सलामत देखा था, वह हमेशा के लिए दुनिया छोड़कर चला गया। कलेजे से नवजात को चिपका रमाबाई बार-बार पति को पुकार रही थी। परिजनों को रिश्तेदारों ने उसे समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह बार-बार पति को पुकारते हुए बेहोश हो जा रही थी। संतोष की अंतिम यात्रा निकली, तो रमा उसके पीछे तक दौड़ पड़ी। बड़े भाई नेतराम कोल ने संतोष को दुखी मन से मुखाग्नि दी।
Previous Post Next Post