सिहोरा में खुलेआम हो रहा रेत का अवैध कारोबार

सिहोरा में खुलेआम हो रहा रेत का अवैध कारोबार

जिम्मेदार अधिकारी बने मूकदर्शक, रेत माफिया खोखली कर में लगा अंचल की जीवन रेखा हिरण नदी को


सिहोरा 

शहरी क्षेत्र सिहोरा में रेत का अवैध कारोबार जोरों पर चल रहा है। खुलेआम ट्रैक्टर हाईवा और डंपर से रेत माफिया रेत ला रहे हैं। शहर में जो भी रेप आ रही है वह वैध है या अवैध इसकी जांच करने वाला कोई भी नहीं है। प्रशासन माइनिंग जिम्मेदार अधिकारी सिर्फ मूकदर्शक बने हैं। रेत माफिया खुलेआम दर्जनों घाटों में दिन रात अंचल की जीवन रेखा को खोखला करने में लगे हैं।


जानकारी के मुताबिक सिहोरा और उपनगर खितौला में रेत के अवैध कारोबार का काम जोर शोर से चल रहा है। ज्वालामुखी कुर्रे रोड मनसकरा, पहरेवा के साथ आउटसाइड क्षेत्र में हाईवा और डंपर से रेत स्टॉक की जा रही है चाहे वह दुकान हो या खेत या कंस्ट्रक्शन साइट। वाहनों से आने वाली रेत की ई रॉयल्टी की जांच करने का समय भी अधिकारियों के पास नहीं है।

"रेत नहीं है सोना है दिन रात ढोना है"

सूत्रों की माने तो रेत के इस कारोबार में पुलिस प्रशासन और अवैध रेत कारोबारियों की मिलीभगत से रेत का गोरख धंधा जोर शोर से चल रहा है। सूत्रों के मुताबिक रेत माफिया भी बड़ी दबंगई से यह बात कहते हैं कि पुलिस प्रशासन को रेत के अवैध कारोबार को लेकर एक बड़ा हिस्सा जाता है। यह कहावत भी बड़ी जोर शोर से चल रही है कि "रेत नहीं है सोना है दिन रात ढोना है"।
Previous Post Next Post