सिहोरा तहसील में पटवारियों का टोटा 23 पटवारी, दो आरआई के हवाले

सिहोरा तहसील में पटवारियों का
टोटा
23 पटवारी, दो आरआई के हवाले तहसील का कामकाज, बाधित हो रहे राजस्व संबंधी
प्रकरण, कलेक्टर कार्यालय में बैठे हैं कुंडी मारकर अनेक पटवारी




सिहोरा 

जबलपुर जिले की बड़ी तहसीलों में शामिल सिहोरा तहसील विगत काफी लंबे समय से पटवारियों की कमी से जूझ रही है। गौरतलब है की सिहोरा तहसील के अंतर्गत आने वाली 60 ग्राम पंचायतों के 60 ग्रामीण हल्के व नगरीय क्षेत्र सिहोरा खितौला के 2 हल्के शामिल है, परंतु इतने बड़े क्षेत्र में महज 23 पटवारियों के भरोसे मजबूरी में राजस्व संबंधी काम संचालित हो रहे हैं।


किसान परेशान

पटवारियों की कमी का बुरा असर ग्रामीण जनमानस व किसानों को झेलना पड़ रहा है। स्मरण रहे की पूर्व से ही सिहोरा तहसील में पटवारियों का टोटा रहा वहीं पिछले माह शासन स्तर से जारी तबादला सूची मे आर.आई पटवारियों के थोकबंद ट्रांसफर होने से सिहोरा तहसील में पदस्थ सात पटवारियों के स्थानांतरण तहसील के बाहर होने से तहसील
के अनेक हल्के रिक्त हो गए। विदित है की पूर्व में सिहोरा तहसील अंतर्गत चार आर.आई काम संभाल रहे थे। शासन द्वारा जारी स्थानांतरण सूची में तीनों आर आई जिले के बाहर स्थानांतरित हो गए। जिसमें मात्र एक आर.आई की पदस्थापना हुई है।

बढ रही पेंडेंसी 

आपको बता दें की एक पटवारी को चार चार  हल्कों की कमान सौंपी गई है। जिससे राजस्व संबंधी कामकाज जैसे आबादी सर्वे नकशा बटांक बटवारा सीमांकन नामांतरण जैसे अहम काम प्रभावित हो रहे हैं और भी अन्य मामलों में पटवारियों की रिपोर्ट समय पर न लगने से राजस्व संबंधी कार्य प्रभावित हो रहे हैं। वहीं राजस्व न्यायालयों में प्रचलित, विचाराधीन प्रकरणों में ठीक समय पर हल्का पटवारियों की जांच रिपोर्ट न लगने के कारण न्यायालय में भी प्रकरणों की संख्या बड़ी मात्रा में लंबित दिख रही है। जहां एक ओर शासन एक हल्के में एक पटवारी की पदस्थापना का दंभ भरती है वहीं मैदानी हकीकत बिल्कुल विपरीत है।

हो रहे कोप भाजन का शिकार

अनेक हल्कों के प्रभार के चलते पटवारी भी अत्यधिक काम के बोझ के तले दबे रहते है जिस कारण किसानों का काम समयपर नहीं हो पाता मजबूरी में अनेकों बार पटवारियों को आम जनमानस व किसानों सफेदपोश नेताओं के कोप भाजन का शिकार होना पड़ता है, वहीं अधिकारियों के द्वारा कार्यवाही का शिकार भी होना पड़ता है।

कलेक्टर से मांग

क्षेत्रीय जन  हेमचंद असाटी मनीष पालीवाल गनपत सिंह चौहान शांति भूषण गुप्ता नंदन जैन विजय पटेल सत्येंद्र पांडे राजेंद्र प्रसाद तिवारी राजकुमार पटैल कंधी लाल यादव  एडवोकेट राघवेंद्र त्रिपाठी दीपक तिवारी राकेश पाठक विद्या भूषण दुबे संजय पटेल गुलाब सिंह मरकाम महेन्द्र सिंह राजपूत मनीष पटैल अजीत शंकर मिश्रा दिलीप साहू लटोरी साहू ने जबलपुर कलेक्टर से इस ओर ध्यान देने की मांग की है
कलेक्ट्रेट में कुंडी मार के बैठे हैं पटवारी 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अन्य जिलों से स्थानांतरित होकर आए ढेरों पटवारी कलेक्टर कार्यालय में राज नेताओं व अधिकारियों की जी हजूरी व सांठगांठ करके अटैचमेंट करा कर समय पास कर रहे है। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में पटवारियों का टोटा बना हुआ है।

फैक्ट फाइल
सिहोरा तहसील के अंतर्गत 60 ग्राम पंचायत,।60 ग्रामीण हल्के
2 नगरीय हल्के सिहोरा खितौला
पूर्व में पदस्थ रहे आर.आई की
संख्या 4
वर्तमान में पदस्थ आर.आई संख्या 2 
पदस्थ पटवारियों की संख्या 23, पूर्व में पदस्थ रहे पटवारियों की संख्या 29
रिक्त पटवारियों की संख्या 39 सिहोरा तहसील के गांव की संख्या 160
कुल हल्का  62, कुल खसरा सवा लाख

इनका कहना

सिहोरा तहसील में आरआई पटवारियों के रिक्त पद शीघ्र भरे जावेगे। इस सबंध में प्रयास जारी हैं।अन्य जिलों से स्थानांतरित होकर पटवारी आ रहे हैं।जिन्हें शीघ्र भेजा जावेगा।
ललित ग्वालवंशी,।अधीक्षक भू-अभिलेख जबलपुर

Previous Post Next Post
Wee News