सैकड़ों साइबेरियन पक्षियों की मौत का जिम्मेदार कौन तहसीलदार की परमिशन पर काटा गया पेड़

सैकड़ों साइबेरियन पक्षियों की मौत का जिम्मेदार कौन तहसीलदार की परमिशन पर काटा गया पेड़


कई महीनों से इस पेड़ पर रहते थे साइबेरियन पक्षी
प्रकृति के दुश्मनों की करतूत

गोसलपुर 

सिहोरा तहसील के अंतर्गत गोसलपुर कस्बे के महाकाली ग्राउंड के पास जक विशालकाय वृक्ष लगा हुआ था जिससे गर्मी के मौसम में लोगों को शीतल छाया प्रदान होती थी परंतु पर्यावरण के कुछ दुश्मनों द्वारा इस हरे भरे पेड़ों को काटने की अर्जी सिहोरा तहसीलदार के पास लगाई गई स्थानीय पटवारी ने आंख मूंदकर इस हरे भरे पेड़ को काटने का प्रतिवेदन तहसीलदार के समक्ष प्रस्तुत कर दिया इस प्रतिवेदन पर आंख मूंदकर तहसीलदार ने भी हरे भरे वृक्ष को काटने की परमिशन दे दी बुधवार को इस पेड़ को दिनदहाड़े मशीनों के द्वारा काटकर ट्रैक्टर में लकड़ी लोडकर आरा मशीनों में भिजवा दी गई ज्ञात हो की
विगत कई महीनों से इस वृक्ष में साइबेरियन पक्षी अपना डेरा जमाये हुए थे यहीं पर उन्होंने घोंसले बनाकर अंडे व नवजात शिशुओं को जन्म दिया था इस पेड़ के कटने के कारण हजारों की संख्या में अंडे जमीन के नीचे गिरकर फूट गए वहीं लगभग इस पेड़ों में लटकते घौसलों में सैकड़ों की संख्या में नवजात पक्षियों की की मौत हो गई जिन्हें इन पेड़ों को काटने वाले प्रकृति के दुश्मनो
द्वारा महाकाली ग्राउंड के पास फेंक दिया गया जहां एक ओर मध्य प्रदेश की सरकार प्रकृति को मजबूत बनाने की दिशा में अंकुर अभियान पौधारोपण अभियान जैसे तमाम प्रयास कर पौधारोपण पर जोर दे रही है वही सिहोरा तहसील में काफी लंबे समय से बिना जांच-पड़ताल के हरे भरे वृक्ष काटने की अनुमति दी जा
रही है
Previous Post Next Post
Wee News