कल 26 जनवरी को वसंत पंचमी पर बन रहे कई शुभ योग, जानें मुहूर्त और सरस्वती पूजा विधि


Basant Panchami 2023 Shubh Muhurt And Puja Vidhi: इस साल 26 जनवरी 2023, गुरुवार को वसंत पंचमी का पर्व मनाया जा रहा है। ये पर्व हर साल माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। ये पर्व ज्ञान, विद्या, संगीत और कला की देवी मां सरस्वती को समर्पित है। शास्त्रों के अनुसार, वसंत पंचमी के दिन ही विद्या की देवी मां सरस्वती का जन्म हुआ था, इसलिए इस दिन मां सरस्वती की पूजा-अर्चना भी की जाती है। वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा करने से बुद्धि तीव्र होती है। साथ ही मां सरस्वती की कृपा से जातक को सभी क्षेत्रों में सफलता प्राप्त होती है। ज्योतिष विशेषज्ञों के अनुसार, इस साल की वसंत पंचमी बेहद खास है, क्योंकि इस बार वसंत पंचमी पर एक नहीं बल्कि चार शुभ योग बन रहे हैं। चलिए जानते हैं कौन से हैं वे शुभ योग और पूजा विधि..

1.शिव योग- पंचांग के अनुसार, 25 जनवरी को शाम 06 बजकर 15 मिनट से लेकर अगले दिन 26 जनवरी को दोपहर 03 बजकर 29 मिनट तक शिव योग रहेगा। ऐसे में इस साल वसंत पंचमी की शुरुआत शिव योग में हो रही है।
2.सिद्ध योग- इस दिन शिव योग के समाप्त होते ही सिद्ध योग की शुरुआत हो जाएगी। 26 जनवरी को दोपहर 03 बजकर 29 मिनट से लेकर अगले दिन 27 जनवरी को दोपहर 01 बजकर 22 मिनट तक सिद्ध योग रहेगा।

3.सर्वार्थ सिद्धि योग- शिव और सिद्ध योग के अलावा वसंत पंचमी पर सर्वार्थ सिद्धि योग भी बन रहा है। इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग शाम 06 बजकर 57 मिनट से लेकर अगले दिन 27 जनवरी को सुबह 07 बजकर 12 मिनट तक रहेगा।

4.रवि योग- इसके अलावा वसंत पंचमी पर रवि योग भी बन रहा है। 26 जनवरी को शाम 06 बजकर 57 मिनट से लेकर अगले दिन सुबह 07 बजकर 12 तक रवि योग रहेगा। पूजा के लिए ये चारों योग बेहद शुभ माने जाते हैं

वसंत पंचमी 2023 पूजा का शुभ मुहूर्त
पंचांग के अनुसार, इस साल माघ शुक्ल पंचमी की शुरुआत 25 जनवरी को दोपहर 12 बजकर 34 मिनट से हो रही है। ये तिथि 26 जनवरी को सुबह सुबह 10 बजकर 28 मिनट तक रहेगी। उदया तिथि के अनुसार वसंत पंचमी 26 जनवरी को ही मनाई जाएगी। इस दिन सुबह 07 बजकर 12 मिनट से लेकर दोपहर 12 बजकर 34 मिनट तक पूजा का शुभ मुहूर्त है।

Previous Post Next Post
Wee News