अतिरिक्त हलकों का प्रभार करेंगे वापस, पटवारियों ने सौंपा तहसीलदार को ज्ञापन

अतिरिक्त हलकों का प्रभार करेंगे
वापस, पटवारियों ने सौंपा तहसीलदार
को ज्ञापन
पटवारियो की नवीन पदस्थापना में सिहोरा को नहीं मिला एक भी पटवारी


सिहोरा 

जबलपुर जिले की सबसे बड़ी कहलाने वाली सिहोरा तहसील मे विगत काफी लंबे समय से पटवारियों के पद रिक्त होने के कारण तहसील में पदस्थ पटवारियों को चार से पांच हलकों का काम सौंपे जाने से आक्रोशित तहसील के पटवारियों ने पटवारी संघ के बैनर तले तहसीलदार राकेश चौरसिया को कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपकर चेतावनी दी है की अगर शीघ्र ही सिहोरा तहसील में पटवारियों के रिक्त पदों की पूर्ति नहीं की जाती तो हम समस्त पटवारी अतिरिक्त हलको का कार्य नहीं करेंगे।

सौंपे गए ज्ञापन में उल्लेख है की अभी हाल ही में जिला मुख्यालय कार्यालय में 25 पटवारी बाहर से स्थानांतरित होकर पहुंचे थे। जिनमें से सिहोरा तहसील को एक भी पटवारी नहीं मिला।
ज्ञात हो की तहसील मे पदस्थ सात पटवारियों का गत माह  स्थानांतरण तहसील के बाहर कर दिया गया और नवीन पदस्थापना के नाम पर एक भी पटवारी नही मिला। पटवारियों का कहना है की इस कमी के चलते पटवारियों को अत्यधिक काम का बोझ पढ़ रहा है। जिससे वह मानसिक रूप से प्रताड़ित होते हैं वही शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं को धरातल पर सही ढंग से व सही समय पर योजनाओं का क्रियान्वयन कराने में असफल हो जाते हैं। जिसके बदले उन्हें कानूनी कार्यवाही का दंश झेलना पड़ता है। सूत्रों के हवाले से प्राप्त जानकारी के अनुसार अनेक पटवारी अधिकारियों से अपनी सांठगांठ करके पसंदीदा जगहों पर अपनी पोस्टिंग करा लिए हैं।
वहीं सिहोरा ठगा सा रह गया ।

 सिहोरा तहसील मे 62 में से 20

पटवारी पदस्थ है जो क्षेत्र के नेताओं की इच्छा शक्ति की कमी का जीता जागता उदाहरण है।
ज्ञात हो की अनेक विभागों की योजनाओं के क्रियान्वयन में पटवारी की अहम भूमिका होती
है, परंतु एक हल्के की वजाए पांच पांच हलकों का कार्य संभालने के कारण पटवारी भी अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहे हैं ज्ञापन सौपते वक्त तहसील के समस्त पटवारी मौजूद थे।
Previous Post Next Post
Wee News