हादसे में घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार देकर बचा सकते हैं जिंदगी

हादसे में घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार देकर बचा सकते हैं जिंदगी


सड़क सुरक्षा सप्ताह :  मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों की टीम ने एनएचएआई और  के कर्मचारियों को दी फर्स्ट एड की जानकारी

सिहोरा 


हाईवे में दुर्घटना के दौरान फर्स्ट ऐड (तत्काल उपचार) देकर घायल व्यक्ति की जान बचाई जा सकती है। बशर्ते घायल व्यक्ति को सही जानकारी के साथ उपचार दिया जाए। यह बात नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के सड़क सुरक्षा सप्ताह 11 से 17 जनवरी को लेकर नेशनल हाईवे 30 मोहतरा टोल प्लाजा में मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों ने फर्स्ट एड ट्रेंनिंग प्रोग्राम के अंतर्गत एनएचएआई और एलएनटी के कर्मचारियों को दी। 


एलएडी के माध्यम से चिकित्सक डॉक्टर मयंक चौरसिया डॉक्टर ममता महोबिया ने बताया कि घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार किस तरीके से दिया जाए ताकि उसकी जिंदगी बचाई जा सके। सड़क सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत आयोजित फर्स्ट एड ट्रेंनिंग प्रोग्राम सिहोरा एसडीओपी भावना मरावी, गोसलपुर थाना प्रभारी अनिल मिश्रा के साथ जबलपुर से पहुंची डॉक्टरों की टीम का एलएनटी के अधिकारियों कर्मचारियों के साथ मोहतरा टोल प्लाजा के अधिकारियों ने किया। इस अवसर पर कुमार मयंक, पीके सिंह, अल्केश झड़े, राजू रंजन, हेमंत पटेल, पारितोषिक गुप्ता, केशव जी, हेमंत गौतम संतोष ओझा के साथ एलएनटी एवं मोहतरा टोल प्लाजा के अधिकारी एवं कर्मचारी बड़ी संख्या में शामिल रहे।
Previous Post Next Post
Wee News