ब्रह्माकुमारीज मस्तूरी के द्वारा नव वर्ष में किया गया जन जागृति हेतु सत्संग का आयोजन,,जो बातें हमें परेशान करती हैं उन बातों को नववर्ष में छोड़ दें- ब्रम्हाकुमारी शशिप्रभा

नव वर्ष में परम सद्गुरु परमात्मा से लें सफलता का वरदान

स्वस्थ खुशनुमा: व सफल जीवन का आधार है राजयोग मेडिटेशन- ब्रह्माकुमारी शशिप्रभा 




विवेक देशमुख

 मस्तूरी l प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय मस्तूरी के द्वारा नववर्ष 2023के आगमन में  स्वस्थ एवम खुशनुमा जीवन के लिए सहज राजयोग का महत्व बताने हेतु शांति साहू के निवास स्थल पर सत्संग का आयोजन किया गया राजयोग शिक्षिका ब्रह्माकुमारी शशिप्रभा ने उपस्थित साधकों को संबोधित करते हुए कहा कि इस नए वर्ष में नए संकल्प ले श्रेष्ठ कर्म करने व सफल जीवन हेतु हमारे विचार श्रेष्ठ  होनें चाहिए जैसे विचार होंगे वैसे ही हम कर्म करेंगे उन्होंने आगे  कहा कि नए वर्ष की शुरुआत में हमें दो बातें विशेष करनी है नव वर्ष का प्रथम दिन रविवार है और इस दिन को हम हमेशा छुट्टी का दिन है, बचपन से समझते आ रहे हैं तो आज से जो बातें हमें परेशान करती हैं हमें भारी करती हैं उन बातों को उन विचारों को हम अपने मन से छोड़ दें l जिस प्रकार किसी स्थूल वस्तु को हम घंटों एक ही स्थिति में पकड़े रहें तो हल्की वस्तु भी हमें बहुत भारी महसूस होने लगता है ठीक इसी प्रकार हम सभी ने अपने मन में कई पुरानी बातों की गांठे बनाकर सालों से पकड़े रखा है कई दिनों पहले कोई घटना घटित हुई किसी ने कोई अपशब्द या कोई ऐसी डिस्टर्ब करने वाली बात कह दी जो हमें अच्छा नहीं लगा किसी भी प्रकार की ऐसी बातें जिससे हमारा मन बहुत भारी और बोझिल हो चुका है और जीवन की सफलता खुशी स्वास्थ्य हमसे दूर जा रहा है अतः इस नववर्ष में हम ऐसी बातों को आज छोड़ दें, तो पहली बात हमें पुरानी बातों को छोड़ना है और दूसरी बात हमें सतगुरु परमात्मा से  अपने जीवन की सफलता सुख शांति और स्वास्थ्य के लिए वरदान व दुआएं लेना है जब हम परमात्मा का ध्यान व राजयोग का अभ्यास करते हैं तो हमारे जीवन के अनेक कष्ट स्वत: दूर हो जाते हैं और हमें परम सतगुरु परमपिता परमात्मा का वरदान प्राप्त होता है तो गुरुवार का दिन अर्थात् परमात्मा सतगुरु से वरदान लेने का दिन मनाएं और छुट्टी के दिन अर्थात रविवार को एक बुराई,कमी-कमजोरी छोड़ने का संकल्प लें तो निश्चित अगर हम यह दो बातें अपने जीवन में धारण कर ले तो हमारा पूरा साल की बहुत अच्छा हो जाएगा और हम खुशनुमा: स्वस्थ सफल जीवन का अनुभव कर सकेंगे l
 ब्रम्हाकुमारी श्यामा बहन ने अंत में सभी को आत्म स्मृति  का तिलक लगाया  और परमात्मा का प्रसाद सभी को बांटा गया l
Previous Post Next Post
Wee News